भूमिहीन नहीं थे हम पहले

अमित: ये कहानियाँ 1997 में पश्चिम चंपारण ज़िले में गाँव की मीटिंग में सुनीं थीं। स्कूल के कमरे में एक दिवसीय मीटिंग के लिये इकट्ठे

Continue reading

पूर्वी राजस्थान में किसान आंदोलन

किसान आंदोलन को अगर और मज़बूत करना है तो किसान आंदोलन में सक्रिय उत्तर भारत के किसानों को भारत के आदिवासियों के जल-जंगल-ज़मीन से संबंधित मुद्दों को समझना ही पड़ेगा।

Continue reading

विस्थापितों को चाहिए रोज़गार – चांडिल बांध

अरविंद अंजुम: बेरोज़गार युवा विस्थापित संगठन की ओर से रोज़गार की मांग अब ज़ोर पकड़ने लगी है। ये युवा उन परिवारों की दूसरी पीढ़ी है

Continue reading

राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र, ओडिशा के पंडो समुदाय की दुर्दशा

गुलाब नाग खुरसेंगा: छत्तीसगढ के सूरजपुर ज़िले के प्रतापपुर गॉंव में एक गढ़ के अवशेष के रूप में पत्थरों से बनी हुई दिवाल और बाँध

Continue reading

हसदेव बचाओ पदयात्रा: जंगल बचाने के लिए गाँधीवादी सत्याग्रह

मोहन:  जल-जंगल-ज़मीन बचाने के लिए हसदेव बचाओ पदयात्रा की शुरुआत 4 अक्टूबर को हसदेव अरण्य क्षेत्र के मदनपुर गाँव के उस स्थान से हुई, जहाँ साल

Continue reading

क्यों अडिग है किसान आंदोलन ?

अरविंद अंजुम: आप जानते ही हैं कि पिछले 9 महीने से भी ज़्यादा समय से किसान तीन कृषि कानूनों की वापसी और न्यूनतम समर्थन मूल्य

Continue reading

1 2 3