बारेला समाज की महिलाओं का जीवन

सुरेश डुडवे: बारेला समाज, मध्यप्रदेश के बड़वानी, खरगोन, धार एवं झाबुआ जिलों में मुख्यत: निवास करता है। माना जाता है कि भील से ही भिलाला

Continue reading

भारत का संविधान और देश में महिलाओं की स्थिति

एड. आराधना भार्गव: प्राचीन काल में कबीलाई समाज के समय, महिला परिवार व कबीले की मुखिया होती थी। समाज में महिलाओं का सम्मानजनक स्थान था।

Continue reading

चित्तौड़गढ़ की मांगी बाई जैसी कई महिलाएं हैं सरकारी योजनाओं से कोसों दूर

शंभू: राजस्थान के चित्तौड़गढ़ ज़िले के गाँव भैरुखेड़ा (नाहरगढ़) की मांगी बाई भील का ससुराल होड़ा गाँव में था। सन् 2006 तक वह होड़ा गाँव

Continue reading

सेंधवा, म.प्र. की एक आदिवासी महिला मज़दूर की गाथा

शांता आर्य: जैसे ही खेतों में काम कम हो जाता है सुरमी बाई सोचने लगती है कि अब क्या काम करूँ? सेंधवा में कपास की

Continue reading

सही मज़दूरी और सम्मान के लिए संघर्षरत हैं देश की महिला घरेलू कामगार

श्रुति सोनकर: अक्सर हम देखते है कि महिलाएं घर का सारा काम करने के साथ-साथ दूसरे के घरों में काम करके खुद पैसा भी कमाती

Continue reading

बड़वानी में “भाग्या खेती” कर रहे खेत-मज़दूरों की चुनौतियां

दिनेश जाधव: भाग्या खेती, खेती करने का एक तरीका है, जिसमें खेती में खाद, बीज, दवाइयों आदि सहित लगने वाला पूरा खर्चा खेत के मालिक

Continue reading