गोण काठा दिहे आवहोत

यह कविता पावरी भाषा में लिखी गयी है। यह भाषा पश्चिम मध्य प्रदेश और उससे लगे महाराष्ट्र के भील, पावरा आदिवासियों द्वारा बोली जाती है।शहरों

Continue reading

गुजरात के कडाना डेम के पास तोड़ी गयी शहीद बिरसा मुंडा की प्रतिमा: विडियो रिपोर्ट

शिवजी किराड़े: गुजरात के महीसागर जिले के कडाना डैम के पास स्थापित आदिवासी वीर शहीद क्रांतिसूर्य भगवान बिरसा मुंडा की प्रतिमा को असामाजिक तत्वों ने

Continue reading

झारखंड की साथी सलोमी एक्का की ज़ुबानी उनका संछिप्त परिचय

सलोमी एक्का: मैं झारखंड राज्य के रांची ज़िले के लोधमा गाँव के एक आदिवासी किसान परिवार से आती हूँ। परिवार में पाँच भाई बहनों में

Continue reading

अन्याय और अत्याचार के खिलाफ मैं राजेश बर्डे और राष्ट्रीय क्रांति मोर्चा संगठन हमेशा खड़े हैं

राजेश बर्डे: मेरा नाम राजेश बर्डे है, ग्राम रेटवा, पोस्ट दसनावल, तहसील गोगावां, जिला खरगोन म.प्र.। मैं नर्सिंग कॉलेज इंदौर से बीएससी नर्सिंग कर रहा

Continue reading

कैसे मनाया गया देशभर में विश्व आदिवासी दिवस: फोटोस्टोरी

युवानिया डेस्क: ओड़िशा आदिवासी चेतना संगठन द्वारा विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर प्रस्तुत किया गया एक गीत आदिवासी चेतना संगठन द्वारा विश्व आदिवासी दिवस

Continue reading

आदिम संताल – संथाली कविता

पतिचरण मुर्मू: आदिवासी संताड़ सामाज कहानी।आबो संताड़ को ताहेंकाना राजा, रानी ।।ताहेंकाना को किसकू समाज।दिशोमरे ताहेंकाना अनकुवाः राज।।ताहेंकाना आबोवाः चाईगाड़।ताहेंकाना आबोवाः चाम्पागाड़।।आबोवाः गे ताहेंकाना कश्मीर।ओनागे

Continue reading

1 2 3 8