उत्तराखंड के खाती गाँव के युवा क्यूँ नहीं करते पलायन?

महिपाल मोहन:  इस साल अप्रैल माह की शुरुआत में मुझे उत्तराखंड के पिंडारी ग्लेशियर के पास के खाती और बाछम गाँव में जाने का मौका

Continue reading

नागपुर, महाराष्ट्र में जुटे 12 राज्यों के 135 साथी, पढ़ा संविधान का पाठ

शशांक शेखर और महिपाल: भारतीय संविधान की प्रस्तावना में व्यक्त संकल्पों में से एक- स्वतंत्रता को मनुष्य का एक ऐसा प्राकृतिक अधिकार बताया गया, जिसका

Continue reading

‘काफल पाको, मिन नी चाखो’ उत्तराखंड की एक मार्मिक लोककथा

महिपाल: चैत का महीना शुरू होने वाला है और इन दिनों उत्तराखंड के जंगलों में काफल का फल पकने को तैयार है। काफल पर एक

Continue reading

आज न वो घुघुती रही और न आसमान में कौवे

महिपाल: उत्तराखंड के कुमाऊँ और गढ़वाल क्षेत्र में मकर संक्राति के दिन मनाये जाने वाले त्यौहार ‘उत्तरैणी’ और ‘मकरैणी’ का खासा महत्व है। गढ़वाल में

Continue reading

हसदेव बचाओ पदयात्रा: जंगल बचाने के लिए गाँधीवादी सत्याग्रह

महिपाल:  जल-जंगल-ज़मीन बचाने के लिए हसदेव बचाओ पदयात्रा की शुरुआत 4 अक्टूबर को हसदेव अरण्य क्षेत्र के मदनपुर गाँव के उस स्थान से हुई, जहाँ साल

Continue reading

उत्तर प्रदेश के फ़ैज़ाबाद और जौनपुर से; उत्तराखंड के अल्मोड़ा से – कोरोना रिपोर्ट

गुफ़रान सिद्दीकी; फ़ैज़ाबाद, उत्तर प्रदेश: पिछले वर्ष कोविड महामारी का पहला हमला जब देश पर हुआ तब लगा कि देश इससे उबर नहीं पाएगा। सरकार

Continue reading

1 2