25 सालों से राजस्थान में जातिगत शोषण के खिलाफ संघर्षरत – नारायणी भील

प्रेरणा: ऊंच-नीच, छुआछूत और जाति आधारित भेदभाव आज भी समाज में देखने को मिल जाता है। समाज का सारा ठेका इन तथाकथित ऊंची जाति वाले

Continue reading

आज भी हमें डर है – कविता

जेरोम जेराल्ड कुजूर: आज भी हमें डर है।हमारी ज़मीन पर,हम खुशहाल थे,धान, मडुवा, गोंदली, मकई सेलहराते थे हमारे खेत,देख हम सभी,संग झूमते- नाचते थे अखरा

Continue reading

हमर अधिकार

बीना कुमारी दंडपाट: सबे सुना रे, रोजी-रोटी हमर अधिकारअरे दीदी भैयामान, रोजी-रोटी हमर अधिकार हर हाथे काम रहे, कोई न बेकार रहे – 2सबे सुना

Continue reading