झारखण्ड के 21 साल- क्या बिरसा का सपना पूरा हो पाया ?

शशांक शेखर: आज धरती आबा बिरसा मुंडा की जयन्ती है और झारखण्ड स्थापना दिवस भी। झारखंड राज्य गठन हुए पूरे 21 साल हो गए। केंद्र

Continue reading

ସମ୍ବିଧାନ ଗୀତ | संविधान गीत

ଲୋଚନ ବରିହା (लोचन बरिहा): ଶୁନ ଶୁନ ମାଁ ବହେନ ଦଦା ଭାଇ ଶୁନ।ଚଲୁଛେ ଭାରତେ ଆମର ଭାରତୀୟ ସମ୍ବିଧାନ।।ସର୍ବଭୌମ୍ୟ ଗଣରାଜ୍ୟ ଭାଇ ରେ ଲୋକଙ୍କ ସାଶନ।।ଇଟା ସୋର ରଖି ଥା ରେଘରେ ଘରେ

Continue reading

आजच्या परिस्थितीबद्दल माझं मतं मांडत आहे | आज के हालातों पर मेरे विचार

उमेश ढुमणे: आपल्या देशात संविधान/लोकशाही आहे। डॉ। बाबासाहेबांनी सांगितलं आहे। संविधान कितीही चांगलं असो पण संविधान चालवणारे लोकं जर वाईट असतील तर आज जी परिस्थिती

Continue reading

युवतियों और युवकों की दुनिया – ‘युवानिया’

अमित: कहा जा रहा है कि भारत विश्व के सबसे जवान देशों में से एक है। हमारी आबादी का एक तिहाई से अधिक हिस्सा, चौदह

Continue reading

अनायास: सिविल नाफरमानी पर गाँधी के विचार और उन पर अरविंद अंजुम की टिप्पणी

अरविंद अंजुम: काश मैं सबको इस बात के लिए मना सकता कि सिविल नाफरमानी हर नागरिक का जन्मजात अधिकार है। वह मनुष्यता छोड़े बिना इसको

Continue reading