इस धरा के घने जंगल

नरेंद्र तिवारी: भवानी प्रसाद मिश्र दादा की कविता “सतपुढा के घने जंगल याद करते हुए” इस धरा के घने जंगलजाने कैसे बने जंगलखूब सुंदर खूब

Continue reading

जब सडकें बनती हैं

सौरभ: जब सडकें बनती हैंतब जाकर कोई शहरतरक्की की पहली सीढ़ी पाता हैतहसील ऑफिस के पासप्राइवेट बैंक का ब्रांच भीउसके बाद ही खुल पाता हैमुख्यधारा

Continue reading

परसा कोल ब्लॉक पर घमासान जारी – एक दशक के आंदोलन पर  एक दिन भारी

रामलाल करियाम:  हाँ! हम परसा कोल ब्लॉक उदयपुर सरगुजा की बात कर रहे हैं, जहाँ अदानी अपना पांव जमाने की कोशिश में लगा है और

Continue reading

हसदेव बचाओ पदयात्रा: जंगल बचाने के लिए गाँधीवादी सत्याग्रह

महिपाल:  जल-जंगल-ज़मीन बचाने के लिए हसदेव बचाओ पदयात्रा की शुरुआत 4 अक्टूबर को हसदेव अरण्य क्षेत्र के मदनपुर गाँव के उस स्थान से हुई, जहाँ साल

Continue reading