हसदेव अरण्य इलाके में कोयला खनन और उसके खिलाफ संघर्ष की टाइमलाइन 

छत्तीसगढ़ बचाओ आन्दोलन:  2005:  हाथी टास्क फोर्स द्वारा समीक्षा के आधार पर हसदेव अरण्य क्षेत्र में लेमरू हाथी अभयारण्य प्रस्तावित किया गया। 2007: पहली कोयला

Continue reading

खनन की व्यथा, स्थानीय साथियों की जुबान

युवानिया डेस्क: बबीता अपने व्यक्तव्य में गेवरा ज़िले में चालू खदानों का क्षेत्र, समाज और समुदायों में प्रभाव पर अपनी बात रखती हैं । लग्भव

Continue reading

छत्तीसगढ़ के हसदेव अरण्य क्षेत्र में कोयला खनन का विस्तृत सच

युवानिया डेस्क: हसदेव अरण्य, देश के मध्यपूर्व के छत्तीसगढ़ राज्य में आने वाला एक सघन वन क्षेत्र है। करीब 1 लाख 70 हज़ार हेक्टेयर इलाके

Continue reading

हसदेव अरण्य में कोयला खनन की कीमत- आदिवासियों और पर्यावरण का विनाश

युवानिया डेस्क: जिस गति से पर्यावरण में बदलाव आ रहे हैं, वह किसी एक इलाके के लोगों के लिए ही नहीं बल्कि पूरे विश्व के

Continue reading

प्रतिकूल फैसलों के बाद भी हसदेव बचाने का संघर्ष जारी है: अभी जग जीता नहीं है और हम हारे नहीं हैं

सत्यम श्रीवास्तव: हसदेव अरण्य के मामले में न्यायालयों की दखल  एक दशक से छत्तीसगढ़ के हसदेव अरण्य को बचाने को लेकर चल रहे संघर्ष का

Continue reading

1 2 3 10