अब आ गया समय

सुरेश डुडवे:

अब आ गया समय

अब नहीं तो कब

अब आ गया समय

नींद से जगने का

अपने आप को पहचानने का

अपने इतिहास को जानने का

अपनी संस्कृति, भाषा

अस्मिता को बचाने का

अब आ गया समय

अब नहीं जागोगे तो कब

अब जागना होगा

उठो, जागो, पढ़ो-लिखो

शोषण के खिलाफ लड़ो

अन्याय के खिलाफ बोलो

अब आ गया समय

अपनी लेखनी को

अपनी ताकत बनाओ

अब आ गया समय ।

Author

  • सुरेश, मध्य प्रदेश के बड़वानी ज़िले से हैं। आधारशिला शिक्षण केंद्र के पूर्व छात्र रह चुके सुरेश अभी तमिल नाडू सेन्ट्रल यूनिवर्सिटी से पीएचडी कर रहे हैं।

Leave a Reply