विडियो स्टोरी: ढास/लाह प्रथा आदिवासियत को बचाने में अहम भूमिका निभाती है

युवनिया के उन्नीसवें संस्करण में मध्य प्रदेश के बड़वानी ज़िले के साथी सुरेश द्वारा लिखे लेख – आदिवासियत को बचाने में अहम भूमिका निभाती ढास/लाह प्रथा पर नंदुरबार ज़िले के एक युवा साथी लक्ष्मण ने एक विडियो बना कर उसको यूट्यूब पर डाला है।

लक्ष्मण की इस अनूठी पहल को युवानिया डेस्क का ज़िन्दाबाद।

आप सब भी इनके यूट्यूब चैनल को ज़रूर लाइक और सब्सक्राइब करें – Tribal CulTure (आदिवासी संस्कृती)

Author

  • लक्ष्मण, महाराष्ट्र के नंदुरबार ज़िले से हैं। उन्होंने औरंगाबाद से सोशल वर्क में स्नातक और पुणे विश्वविद्यालय से सोशल वर्क में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है। वह ट्राइबल कल्चर नाम का एक यूट्यूब चैनल भी चलाते हैं, जहाँ वो मनोरंजक विडियो, आदिवासी समुदाय की संस्कृति, सभ्यता, कला, रिति-रिवाज़, आसान भाषा में बना कर डालते हैं।

Leave a Reply