अनायास: जेल तो यातनाओं का सफर है

अरविंद अंजुम: “मैंने मुख्य दारोगा से कहा कि मेरे बाल और मूंछ कटवा दीजिए। उसने कहा, गवर्नर ने सख्ती से मना किया है। मैंने कहा-

Continue reading

क्यों अडिग है किसान आंदोलन ?

अरविंद अंजुम: आप जानते ही हैं कि पिछले 9 महीने से भी ज़्यादा समय से किसान तीन कृषि कानूनों की वापसी और न्यूनतम समर्थन मूल्य

Continue reading

अनायास : गांधीजी के लिए क्या थे ईश्वर के मायने

अरविंद अंजुम: “मैं सत्य का एक विनम्र शोधक हूं। इसी जन्म में आत्मसाक्षात्कार के लिए मोक्ष प्राप्त करने के लिए आतुर हूं। करोड़ों गूंगी जनता

Continue reading

वैज्ञानिक चेतना तो ठीक है लेकिन, मन है कि मानता नहीं!

अरविंद अंजुम: कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ जिले में एक मंदिर है, जिसका नाम है- कुक्के सुब्रह्मण्य। यहाँ नौ सिरो वाले सांप की मूर्ति है, जिसकी

Continue reading

सांप्रदायिकता और नफरत को हमें अब कहना होगा ‘नेवर अगेन’

गुफ़रान सिद्दीकी: सहिष्णुता और असहिष्णुता की बहस के बीच एक बात जो हम नज़र अंदाज़ करते रहे, वह है दोस्ती के रिश्ते में पिरोया हमारा

Continue reading

धर्म के बारे में क्या कहता है भारत का संविधान?

एड. आराधना भार्गव: भारत एक पंथनिरपेक्ष राज्य है। इसका अर्थ है कि यह सभी धर्मो के प्रति तटस्थता और निष्पक्षता का भाव रखता है। पंथनिरपेक्षता

Continue reading

1 2