शंकर गुहा नियोगी – जिन्हे देश के युवाओं का आइकॉन होना चाहिये

अमित: अब सोचता हूॅं कि ऐसा कैसे हुआ कि इतने सालों में कभी नियोगी से मिला ही नहीं? नियोगी से हम लोग कभी नहीं मिले

Continue reading

25 सालों से राजस्थान में जातिगत शोषण के खिलाफ संघर्षरत – नारायणी भील

प्रेरणा: ऊंच-नीच, छुआछूत और जाति आधारित भेदभाव आज भी समाज में देखने को मिल जाता है। समाज का सारा ठेका इन तथाकथित ऊंची जाति वाले

Continue reading

अलीराजपुर के आदिवासी शेर मगन भाई को आखिरी क्रांतिकारी सलाम

युवानिया डेस्क: एक बारह साल के भिलाला आदिवासी लड़के ने स्कूल में दीवार पर टंगा हुआ विश्व का नक्शा देखा। उसे लगा कि नक्शे में

Continue reading

झारखंड के आदिवासी नायक शहीद सोबरन मांझी: एक परिचय

विनोद कुमार: आदिवासी समाज के शोषण-उत्पीड़न के खिलाफ अनगिनत लोगों ने संघर्ष किया और अपनी शहादत दी। कुछ को लोग जानते हैं, कुछ को कम

Continue reading

फिर से उलगुलान का समय – बिरसा मुण्डा की याद

अमित: बिरसा मुण्डा, 1872 – 1901 बिरसा मुण्डा एक आदिवासी स्वतंत्रता सेनानी थे जिन्होने 26 साल के अपने मशाल से जीवन से पूरे जंगल में

Continue reading

1 2