वैज्ञानिक चेतना और अन्धविश्वास निर्मूलन पर काम कर रही संस्थाएं/समूह

युवानिया डेस्क: 1. असम साइंस सोसाइटी, असम: असम साइंस सोसाइटी एक स्वैच्छिक संगठन है जिसे वर्ष 1953 में “गौहाटी साइंस सोसाइटी” के रूप में स्थापित

Continue reading

महाराष्ट्र राज्यातील जादूटोणा विरोधी कायद्याची पार्श्वभूमी आणि यशस्वीता

डॉ. सुदेश घोड़ेराव: साधारणपणे 1990 च्या सुमारास डॉ. नरेंद्र दाभोळकर यांच्या प्रमुख नेतृत्वातून आणि माजी न्यायमूर्ति चंद्रशेखर धर्माधिकारी, एडवोकेट भास्करराव मिसर यांचे प्रयत्नातून जादूटोणा विरोधी

Continue reading

असंगठित क्षेत्र के मज़दूरों के लिए मददगार साबित हो रही है इंडिया लेबरलाइन

आशुतोष मिश्रा: इंडिया लेबरलाइन (1800-833-9020) एक मज़दूर जो अपनी आजीविका के लिए घर छोड़कर इस आशा के साथ पलायन करता है कि उसे रोज़गार मिलेगा।

Continue reading

प्रवासी मज़दूरों के बारे में क्या कहता है नया श्रम कानून?

राजू और स्वप्निल: 2011 की जनगणना के अनुसार, भारत में 5.6 करोड़ अंतर्राज्यीय प्रवासी हैं, जिनमें से अधिकांश उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, राजस्थान और मध्य

Continue reading

भारतीय संविधान और प्रतिष्ठा/गरिमा और अवसर की समता

देवेंद्र: भारतीय संविधान और प्रतिष्ठा / गरिमा और अवसर की समता का अर्थ – मानव सभ्यता के इतिहास में समानता का विचार धीरे-धीरे विकसित हुआ

Continue reading

आइये जानते हैं कि क्या बदलाव होते हैं महिलाओं के शरीर में

श्रुति सोनकर: महिलाएँ कभी बीमार नहीं पड़ती हैं, उनको तो बस छोटी-मोटी बीमारियाँ होती हैं। ऐसा लोगों का कहना है, आइये आज जानते हैं कि

Continue reading

1 2 3 4