पितृसत्तात्मक समाज के निर्माता – महिला बच्चा पैदा करने की मशीन नहीं है

एड. आराधना भार्गव: अमेरिका में सुप्रीम कोर्ट द्वारा गर्भपात से जुड़े पचास साल पुराने फैसले को पलट दिया। अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट के फैसले को पलटने

Continue reading

सिर्फ कागज़ की वस्तु बनकर रह गया है पंचायतों में महिला आरक्षण 

एड. आराधना भर्गव: सीधी जिले के वार्ड क्रमांक 06 सेमरिया की जिला पंचायत सदस्य शान्ति कोल जी से मेरी मुलाकात 16/04/2022 को उनके निवास स्थान

Continue reading

भारत का संविधान और देश में महिलाओं की स्थिति

एड. आराधना भार्गव: प्राचीन काल में कबीलाई समाज के समय, महिला परिवार व कबीले की मुखिया होती थी। समाज में महिलाओं का सम्मानजनक स्थान था।

Continue reading

धर्म के बारे में क्या कहता है भारत का संविधान?

एड. आराधना भार्गव: भारत एक पंथनिरपेक्ष राज्य है। इसका अर्थ है कि यह सभी धर्मो के प्रति तटस्थता और निष्पक्षता का भाव रखता है। पंथनिरपेक्षता

Continue reading