उत्तराखंड के गढ़वाल क्षेत्र में पारंपरिक अनाजों से मनाई जाती है दिवाली

सिद्धार्थ: किसी त्यौहार को एक कहानी से जोड़ देना और उन्हें एक ही तरीके से मनाना ऐसा खासतौर पर शहरों में ही देखने को मिलता

Continue reading

मध्यप्रदेश के भील, बारेला, भीलाला आदिवासियों का बैलों का त्यौहार – दिवावी

शिवजी किराड़े: मध्यप्रदेश में आदिवासी (भील, बारेला, भीलाला) समाज में दीवावी एक अनोखा त्यौहार है। आदिवासी समाज में दीवावी का सांस्कृतिक महत्व बहुत अधिक है।

Continue reading

चित्तौड़गढ़ के गावों की दिवाली – आधारशिला स्कूल की लड़कियों के आलेख

विषमता उजागर करता दिवाली का त्यौहार मधु भील: मैंने अपने गाँव में दिवाली के त्यौहार को विशेष त्यौहार के रूप में मनाते नहीं देखा। मेरे

Continue reading

उधार करके घी पियो!!

(संप्रभु बॉन्ड की हकीकत) डॉ राहुल बैनर्जी: सभी संप्रभु देशों की सरकारें, देश के विकास के लिए धन जुटाने के लिए, कर या शुल्क लगाती

Continue reading

सोहराय पर्व – संथाल आदिवासी समुदाय का त्यौहार

लालमोहन मुर्मू: सोहराय एक संथाल आदिवासी समुदाय का त्यौहार है। हिन्दू लोग इस पर्व को दिवाली कहते हैं लेकिन यह हिंदुओं की दिवाली से अलग

Continue reading

चित्तौड़गढ़ के गांवों में ऐसे मनाया जाता है दिवाली पर्व

सुमन चौहान: इस क्षेत्र में दीपावली वाले दिन पूजा नहीं करते हैं। धनतेरस को लक्ष्मी जी की पूजा करते हैं। उस दिन अपने घर के

Continue reading

1 2 3 4